Total Pageviews

Sunday, May 29, 2011

कुछ आया !!!!

इस चित्र को देखकर जो भी ख्याल आपके मन में आए वो हमें बताएं | 
                       आखिर हम भी तो देखें की आप कहाँ तक
                                          सोच सकते हैं | 


सोचो  सोचो

3 comments:

krati said...

इसे कहते हैं महंगाई की मार |

जाट देवता (संदीप पवाँर) said...

इसे कहते है, इसकी टोपी उसके सिर

Sachin Malhotra said...

आखिर कोई मेरे जन्मदिन पर क्यूँ नहीं आया :( .....येही सोच रहा है शायद

मेरे ब्लॉग पर भी आपका स्वागत है : Blind Devotion

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...